True Value of Love – Short Love Motivational story in hindi

आज की इस दुनिया में सच्चा प्यार मिलना ऐसा ही है जैसे किसी बेरोजगार की अचानक से सरकारी जॉब लग जाना। हालांकि चमत्कार तो किसी की भी जिंदगी में हो सकते हैं। और कुछ लोगो को सच में true love मिल भी जाता है। लेकिन सिर्फ सच्चा प्यार मिलना ही जिंदगी नहीं है उस प्यार की वैल्यू (value of love) समझना भी बहुत जरूरी है। आजकल लोगों को सिर्फ दो चार दिन का इश्क़ वाला लव होता है और समय गुजरते गुजरते रिश्तों में खटास आ जाती है।

और अंत में कहानी breakup पर आकर end हो जाती है। आज की Generation का हाल यही है। और इसकी वजह है की हमे प्यार की सही वैल्यू नहीं पता और ना ही हम जानना चाहते हैं। किसी से प्यार हो जाने के बाद रिश्ते में अनबन होना एक साधारण सी बात है। लेकिन हम चाहें तो उस परेशानी को हल भी कर सकते हैं। लेकिन हम उस परेशानी का हल निकालने के बजायी उस परेशानी से ही छुटकारा पाना चाहते हैं। और फिर breakup के बाद यही बोलते हैं की “प्यार व्यार कुछ नहीं होता। सब बकवास की बातें हैं।” (Also Read- रिश्तों के एहमियत Motivational Kahani)

आज की शार्ट लव मोटिवेशनल स्टोरी के जरिये आप प्यार की सही वैल्यू को समझेंगे। इस short motivation story on love से आप ये बात जान पाएंगे की किस तरह एक टूटते रिश्ते को बचाया जा सकता है। इस love story motivation को पूरा जरूर पढ़ें। और ये बात जानें की वो क्या चीज़ है जो प्यार को सही वैल्यू देती है।

किसी ने क्या खूब कहा है- “अपने रिश्तों की कदर समय रहते करना सीख लो वरना एक दिन आपके पास समय तो होगा लेकिन रिश्ते नहीं।”

True Value of Love (प्रेम का मूल्य) – Short Love Motivational story in hindi

ये कहानी एक छोटे से आइलैंड की है जहाँ पर सभी फीलिंग्स यानि की भावनाएं रहा करती थी। उस आइलैंड में सब कुछ थी चल रहा था लेकिन कुछ समय बाद वहां रोजाना बारिश होने लगी और सभी Feelings को लगने लगा की अब वह आइलैंड डूबने वाला है।

वहां से निकलने के अपने लिए सभी Feelings नाव बनाने लगी लेकिन प्रेम को लगा की आइलैंड नहीं डूबेगा और हमेसा की तरह बरसात रुक जायेगी तो प्रेम ने अपने लिए नाव नहीं बनाई। कुछ दिन बाद बहुत तेज बारिश हुई और साथ ही तूफ़ान आया और वो आइलैंड सुच में डूबने लगा।

सभी Feelings अपनी-अपनी नांव लेकर वहां से निकलने लगी, लेकिन प्रेम अकेला रह गया,अपनी जान बचाने के लिए प्रेम इधर उधर मदद की तलाश करने लगा।
उसी समय प्रेम की नज़र प्रॉस्पेरिटी यानि समृद्धि पर पड़ी, जो एक बड़ी सी नांव में वहां से गुजर रही थी। प्रेम ने उसे पुकारा और पूछा, “समृद्धि क्या तुम मुझे अपनी नांव में लेकर चलोगी..?”
समृद्धि ने कहा,” नहीं प्रेम, मैं तुम्हे अपने साथ नहीं ले जा सकती। देखो, मेरी नांव में कितना सारा सोना-चाँदी है, इसमें किसी और के लिए जगह नहीं है,” ऐसा कहकर वो वहां से चली गयी।

(Also Read- Love & Breakup Motivational Story)

कुछ देर बाद प्रेम ने घमंड को अपनी सुन्दर सी नाव में जाते हुवे देखा…तो प्रेम ने घमंड से मदद के लिए पूछा।
घमंड ने कहा,”अरे नहीं प्रेम, तुम पूरी तरह भीग चुके हो, तुम्हारे आने से मेरी सुन्दर नाव ख़राब हो जाएगी।” ऐसा कहकर घमंड भी वहां से चला गया।
उदासी भी निकट ही थी तो प्रेम ने उससे मदद के लिए पूछा।
उदासी ने कहा,”ओह प्रेम, मैं बहुत उदास हूँ और इस वक़्त अकेला रहना चाहती हूँ।”

ठीक उसी समय ख़ुशी भी वहां से गुजरी लेकिन वो इतनी खुश थी की उसने प्रेम की तरफ ध्यान ही नहीं दिया। और वहां से निकल गयी।
अब प्रेम को लगने लगा की वो इस आइलैंड के साथ ही डूब जायेगा और वो अपने आखिरी समय का इंतज़ार करने लगा। लेकिन तभी एक आवाज आयी, “आओ प्रेम, मेरे साथ आ जाओ। मैं तुम्हें ले चलता हूँ।”

प्रेम ख़ुशी-ख़ुशी उस नांव मैं बैठ गया और उसने ये तक नहीं पूछा की वह कहाँ जा रहे हैं और उसे ले जाना वाला कौन है।
किनारे पर पहुँचने के बाद प्रेम ने राहत की सांस ली और प्रेम को ये एहसास हुवा की जिसने उसकी सहायता की उसके बारे में उसे कुछ भी नहीं पता है। तो ये बात जानने के लिए प्रेम, ज्ञान के पास गया और उसने पूछा की उसे बचाने वाला कौन था…? (Also Read- Top 5 Amazing Short Inspirational Stories)

तो ज्ञान ने बताया की…वह समय था…
प्रेम ने हैरान होते हुवे पूछा, “समय..! भला समय मुझे को बचाएगा..?
ज्ञान मुस्कुराया और बोला, “क्यूंकि, समय ही है जो प्रेम की वैल्यू को समझ सकता है।”

प्रेरणादायक सीख जो हमे इस लव मोटिवेशन स्टोरी से मिलती है:-

ये कहानी हमे लाइफ की बहुत बड़ी बात सिखाती है, समय ही हमें हमारे प्यार की सही वैल्यू समझाता है फिर चाहे वह प्यार हमे हमारी फॅमिली से मिले या हमारे दोस्तों से या फिर किसी और से। हमारे रिश्ते कभी एक जैसे नहीं रहते, अगर उनमे प्यार है तो कभी ना कभी लड़ाई भी होगी, लेकिन कई बार बुरा वक़्त आने पर हम अपने रिश्तों को तोड़ देते हैं, उस वक़्त हमे ये लगता है की हमारे रिश्तों में प्यार बचा ही नहीं लेकिन हम ये भूल जाते हैं की सही समय आने पर रिश्तों में प्यार फिर से आ जाता है। (Also Read- कहाँ मिलेंगी खुशियां Motivational Story)

बिगड़े हुवे रिश्ते बनने में थोड़ा वक़्त लगता है और कुछ वक़्त बाद वह रिश्ता फिर से पहला जैसा खूबसूरत हो जाता है। लेकिन ऐसा तभी हो सकता है जब अपने घमंड और दुःख के कारण उस रिश्ते को तोड़े ना अगर रिश्ता बना रहेगा तो सही वक़्त भी आएगा और वो रिश्ता फिर से प्यारा बन जाएगा। सो फ्रेंड्स अपने प्यार को और अपने रिश्तों को थोड़ा समय दो, और वो रिश्ते समय बढ़ने के साथ और भी बेहतर बनते जाएंगे।

आई होप ये short love motivational story अच्छी लगी हो। इस motivational kahani in hindi से related अगर आपका कोई सवाल हो तो comment section में जरूर बताएं। ऐसी ही और भी short hindi story पढ़ने के लिए इस पेज से जुड़ें रहें।

Leave a Comment