Top 5 Amazing Short Hindi Motivational And Inspirational Stories

कहानियों के जरिये खुद को हर वक्त Motivate रखना बहुत आसान हो जाता है क्यूंकि कहानियां इंटरेस्टिंग होती हैं और उनसे मिलने वाला Lesson हमे याद भी रहता है। इसलिए आज की इस पोस्ट में हम आपके ऐसी ही Top 5 best short hindi motivational and inspiration stories लेकर आये हैं।

ये बेस्ट शार्ट हिंदी स्टोरीज आप कम समय गंवाए आसानी से पढ़ सकते हैं। खुद को प्रेरित रखने के लिए आप इन प्रेरणादायक कहानियों को दिन के किसी भी वक्त पढ़ सकते हैं। इन short hindi motivational stories को एक बार जरूर पढ़ें और इनसे मिलने वाली सीख को हमेशा याद रखें।

#1- छोटी छोटी गलतियां अक्सर बड़ी मुसीबत बन जाती हैं – best short inspirational story

किसी ने क्या खूब कहा है,
“छोटी-छोटी गलतियां करने से बचा करो, क्यूंकि इंसान अक्सर पथ्थर से टकरा कर गिरता है, पहाड़ से नहीं।”

inspirational story in hindi,short inspirational story,new hindi story motivation
short inspirational story

एक समय की बात है, दो बहुत अच्छे दोस्त थे। वो अक्सर अपना समय एक साथ बिताया करते थे। एक दिन वो दोनों नाव के सहारे नदी पर कर रहे थे, बातों बातों में दोनों दोस्तों की किसी बात को लेकर बहस हो गयी। बहस इतनी बड़ गयी की एक दोस्त ने गुस्से में चप्पू उठाकर कर जोर से नाव के बीच में मार दिया। जिससे नाव में एक छेद हो गया। जिसकी वजह से धीरे धीरे नाव में पानी भरने लगा।

ये देख दूसरा दोस्त बोला की, ”अरे मुर्ख, तुमने ये क्या कर दिया। अब हम यहाँ से आगे कैसे जायेंगे..?”

तो वो बोला की, “अनजाने में मुझसे ये गलती हो गयी। मुझे माफ़ कर दो।”

थोड़ी ही देर में नाव डूब गयी और दोनों दोस्त किसी तरह तैरकर नदी के किनारे में आये। तब दूसरा दोस्त बोला की, “तुम्हारी छोटी सी गलती की वजह से आज हमारी जान भी जा सकती थी।”

lesson we learn from this inspiring short story-

ये छोटी सी inspirational story ये बात सिखाती है की हमे अपनी life की हर छोटी से छोटी गलतियों पर ध्यान देना चाहिए। Life में हम बहुत सी ऐसी गलतियां करते हैं जो दिखने में बहुत छोटी होती हैं लेकिन कभी कभी ऐसी गलतियां हमारी life की सबसे बड़ी मुसीबत बन जाती हैं। जितना हो सके छोटी गलतियां करने से बचना चाहिए, ये छोटी छोटी गलतियां अक्सर बड़ा रूप ले लेती हैं।

(Also Read – असली प्रेरणा देने वाली एक छोटी सी कहानी, युवाओं के लिए प्रेरणादायक कहानियां )

हम अक्सर कई बार ये सोचकर लोगों की और खुद की भी गलतियां माफ़ कर देते हैं की छोटी सी तो बात थी, ऐसा तो होता रहता है। लेकिन जब वो बात बड़ी बन जाती है फिर उस वक़्त हमे अफ़सोस होता है। गलती भले ही छोटी हो या बड़ी ये बात हमेसा याद रखना की गलती तो एक गलती होती है। ये बात वक़्त रहते इंसान समझ जाये तो उससे अच्छी बात और क्या हो सकती है।

#2- Value Of One Rupee – short hindi motivational story

 मोटिवेशनल स्टोरीज इन हिंदी, बेस्ट हिंदी स्टोरीज,best hindi stories for inspiration
short hindi motivational story

बहुत समय पहले की बात है। एक व्यक्ति था जो भगवान को बहुत मानता था और दिन रात भक्ति में डूबा रहता था। एक दिन वह भगवान के दर्शन करने के लिए एक बड़े पहाड़ पर चड़ा। बहुत उचाईं पर पहुंच कर उसने पूजा करनी शुरू कर दी और बोला, “भगवान में जानता हूँ की आप यही निवास करते हैं, कृपा कर मुझे अपने दर्शन दो।”

उसकी भक्ति से खुश होकर भगवान ने उसे अपने दर्शन दिए। वो भक्त बहुत खुश हो गया।
भगवान को देख उस भक्त ने एक सवाल पूछा, “की भगवान आपके लिए दिन, महीनों और सालों की value क्या है।”
तो भगवान बोले, “बस 1 मिनट..!!”

फिर उस भक्त ने पूछा, “ की भगवान आपके लिए हजारों, लाखों, करोड़ों रुपयों की value क्या है।
तो भगवान बोले, “बस एक रुपया”
फिर वो भक्त बोला, “भगवान में यहां तक आया हूँ, आप मुझे बस एक रुपया दे दो।”
तो भगवान बोले, “ठीक है, बस एक मिनट रुको।”

lesson we learn from this short motivational story-

ये शार्ट कहानी हमे ये बात सिखाती है की माँगा हुवा हमे कब मिलेगा ये कोई नहीं जानता लेकिन मेहनत करके कमाया हुवा हमे इसी life में मिल जायेगा इसलिए मांगना छोड़ो और मेहनत करो। वार्ना आप उस मांगे हुवे एक रूपये के चक्कर में अपनी लाइफ का वो कीमती 1 minute भी बर्बाद कर दोगे जो आपको इस संसार में बिताना है।

हमेसा याद रखें की हमारी मेहनत ही हमारी असली कमाई है। समय से पहले और नसीब से ज्यादा कभी किसी को नहीं मिलता। जब तक कुछ करोगे नहीं तब तक कुछ मिलेगा भी नहीं। भगवान भी उसी को देता है जो खुद के लिए कुछ करता है क्यंकि इस दुनिया में मांगने वालों की कमी नहीं है, कमी है तो सिर्फ करने वालों की। अपनी मेहनत को अपना भगवान बनाओ और उसका रिवॉर्ड एक ना एक दिन आपको जरूर मिलेगा।

#3- हमे जो चाहिए वो कब मिलेगा – a short story in hindi with motivation

एक बच्चा अपनी मां के साथ दुकान पर शॉपिंग करने गया। दुकानदार ने उसकी मासूमियत देखकर उसके सामने टॉफ़ी का एक डिब्बा खोलकर कहा  “ये लो बेटा टॉफियां ले लो..?” लेकिन उस बच्चे ने टॉफियां लेने से मना कर दिया।

दुकानदार को लगा की बच्चा टॉफियां लेने से डर रहा है तो वो खुद अपने हाथ से टॉफियां निकाल कर उस बच्चे को देने लगा। इस बार बच्चे ने जल्दी से वो टॉफियां लेली और अपनी जेब में डाल लीं।

Also Read- जिंदगी को बेहतर बनाने वाली 5 प्रेरणादायक बातें , Six short motivational speech

वापस आते हुए उसकी मां ने पूछा, “जब अंकल तुम्हारे सामने डिब्बा खोल कर टॉफियां दे रहे थे तब तुमने नहीं लीं और जब उन्होंने अपने हाथों से दीं तो ले लीं, ऐसा क्यों?” तब उस बच्चे ने बहुत खूबसूरत जवाब दिया, “मां मेरे हाथ छोटे-छोटे हैं। अगर मैं टॉफियां लेता तो 2-3 टॉफियां ही आतीं जबकि अंकल के हाथ बड़े हैं इसलिए मुझे बहुत सारी टॉफियां मिल गईं।”

जिंदगी की सीख जो हमे इस story से मिलती है-

Click Here to Read More….

ये small story in hindi हमे सिखाती है की इस Life में जब भगवान हमें कुछ देता है तो वह अपनी मर्जी से देता है और वह हमारी सोच से परे होता है, हमें हमेशा उसकी मर्जी में खुश रहना चाहिए। क्या पता वह किसी दिन हमें पूरा समुद्र देना चाहता हो और हम हाथ में चम्मच लेकर खड़े हों। इसलिए अपने कर्मों और उपरवाले पर हमेसा भरोसा रखें। सही वक़्त आने पर वो आपको भी वो सब कुछ देगा जिसके लायक आप होंगे। अपनी जिंदगी में किसी चीज़ के खो जाने या ना मिल पाने का गम कभी ना करें क्यूंकि हमे ऊपर वाला वही देता है जो हमारे लिए सही होता है।

#4- Don’t Judge Others – short motivational story with moral 

किसी ने क्या खूब कहा है, 

“कहने वालों का कुछ नहीं जाता, सहने वाले कमाल करते हैं; कौन ढूंढे जवाब किसी की परेशानियों के, लोग तो बस सवाल करते हैं।”

एक 18 साल का लड़का, ट्रैन की खिड़की से बाहर देखकर चिल्लाया, “डैड, देखो पेड़ पीछे की तरफ जा रहे हैं।”

उसके पिता ने लड़के की तरफ देखा और एक छोटी सी smile दी।

पास में बैठा एक व्यक्ति उस लड़के की बचकानी बातें सुन रहा था। वो लड़का फिर से चिल्लाया, “डैड, देखो बदल हमारे साथ-साथ चल रहे हैं।”

इस बार फिर उसके पिता ने कुछ नहीं कहा और बस smile दे दी। पास में बैठे उस व्यक्ति से रहा नहीं गया और उसने उस लड़के के पिता से कहा की, “आप अपने लड़के को किसी अच्छे Doctor के पास क्यों नहीं ले जाते।” 

वो व्यक्ति मुस्कुराया और बोला, “हाँ मैंने Doctor को दिखाया और हम अभी हॉस्पिटल से ही आ रहे हैं। मेरा लड़का जन्म से अँधा था और आज हम उसकी आँखों का operation करवा कर वापिस घर जा रहे हैं।” 

lesson we learn from this hindi story-

यह hindi kahani हमें यह बात सिखाती है की हमे बिना किसी के बैकग्राउंड को जाने कभी उन्हें judge नहीं करना चाहिए। इस दुनिया में हर किसी की जिंदगी की कुछ ना कुछ कहानी होती है जो हमें शायद ही पता हो, इसलिए किसी के बारे में कुछ भी सोचने से पहले या उन्हें judge करने से पहले, उन्हें ठीक तरह से जान लेना बहुत जरुरी है, क्यूंकि कभी कभी सच हमारी सोच से बहुत अलग होता है।

(Also Read- जैसा करोगे वैसा पाओगे Hindi Story, बिना गुरु ज्ञान नहीं मिलता Motivational Story )

हम अक्सर पूरी बात जाने बिना ही लोगों के बारे में खुद ही कहानियां बनाना शुरू कर देते हैं। किसी को judge करना या किसी के बारे में बातें बनाना एक बहुत बुरी आदत है। इस तरह के लोगों से हमेसा दूर रहना चाहिए जो लोगों के बारे में बिना सोचे बातें बनाता हो और जो दूसरों की बातों को इधर उधर करता हो।

#5- एक दुखी व्यक्ति (A worried man) – short inspirational story

ये कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है जिसके पास सेब के बगीचे थे।पर उसकी आदत हमेशा रोने की थी। वह हमेशा दुखी रहता. कभी ज्यादा बारिश हो जाती, कभी सूखा पड़ जाता, कभी बाढ़ आ जाती और कभी उसकी फसल में कीड़े लग जाते..तो कभी फल सड़ जाते थे. जब भी उसकी फसल खराब होती तो वो भगवान को कोसते रहता।

और अगर किसी साल सेब की फसल अच्छी होती तो बाजार में दाम गिर जाते और मुनाफा कम हो जाता। लेकिन एक साल सब कुछ ठीक हुवा….ना ज्यादा धुप, ना ज्यादा बारिश, ना ही बाढ़ आयी और ना ही फसल में कीड़े लगे और बाजार में दाम भी अच्छे मिल गए. और हर किसी ने खूब पैसा कमाया। लेकिन इस बार भी वह व्यक्ति पहले की तरह दुखी और परेशान था।

उसे दुखी देख उसके पडोसी ने उससे कहा, “अरे भाई, अब तो खुश हो जाओ। जिंदगी में ऐसे सेब कभी देखे भी नहीं थे. सभी सेब लगाने वाले खुश हैं और उनके पास पैसों की कोई कमी नहीं है लेकिन तुम क्यों दुखी हो, और ऊपर वाले को क्यों कोस रहे हो…?”

वो व्यक्ति बोला, “ये लोग नासमझ हैं जो खुश हो रहे है। उन बेवकूफों ने शायद इस बात पर गौर नहीं किया की इस साल कोई भी सेब सड़े नहीं हैं इसलिए जानवरों को अच्छे-खासे सेब खिलाने पड़ रहे हैं। हर साल जानवरों को खराब फल खिलाकर काम चला लेते थे और इस साल सेब बहुत महंगे हैं हमारे बाप-दादाओं ने कभी भी इतने कीमती फल जानवरों को नहीं खिलाये. हाय इस साल तो में लुट गया।”

lesson we learn from this inspirational story-

ये कहानी हमें ये बात सिखाती है की जिस व्यक्ति को रोने की आदत होती है, वो रोने का कोई ना कोई बहाना ढूंढ ही लेता है. कहने का मतलब है की जो व्यक्ति उलटी सोच का होता है उसे अपनी ख़ुशी में भी सिर्फ दुःख ही दिखाई देता है और उसके पास सिर्फ रोने की वजह ही होती है।

शिकायती लोग दिल के भी छोटे होते हैं, वो अपना फायदा दूसरों के साथ बाँट भी नहीं पाते। ऐसे लोग सिर्फ अपने फायदे के बारे में ही सोचते हैं और वो नहीं चाहते की उनकी वजह से किसी और को किसी भी तरह का कोई फायदा है। इसलिए अपनी सोच को सीधा करिये, उल्टी सोच इंसान को सिर्फ दुःख और जलन ही देती है। Positive सोच हर व्यक्ति को खुश रखती है.  

आई होप इन Top 5 all time best short hindi motivational stories से आपको अच्छी और प्रेरणादायक बातें सीखने को मिली हों। ये short hindi motivational stories आपको पसंद आयीं हो तो इन्हें शेयर जरूर करें और हर दूसरों को प्रेरित होने का मौका दें। ऐसी और भी best stories in hindi पढ़ने के लिए इस पेज से जुड़ें रहें।

Leave a Comment