The Gold Coins – prernadayak kahani in hindi

prernadayak kahani in hindi – दोस्तों कई बार ज्यादा चीज़ें पाने का लालच हमे उन चीज़ों से भी दूर कर देता है, जिनकी हमे सच में जरूरत होती है। आज की शार्ट प्रेरणादायक कहानी भी एक ऐसे ही व्यक्ति है जिसके लालच ने उसे वो भी नहीं मिलने दिया जिसकी उसको जरूरत थी।

चीज़ों का लालच करना और ऐसी चीज़ों के बारे में सोचते रहना जिनकी हमे जरूरत नहीं होती अक्सर हमारी परेशानियों का कारण बन जाती है। इस मोटिवेशनल कहानी के जरिये आपको इस बारे में सीख मिलेगी की किस तरह हमे ख़याली पुलाव नहीं बनाने वाले चाहिए और साथ ही कभी भी किसी काम को करने से पहले उससे मिलने वाले results के बारे में सोच कर ज्यादा ख़ुशी नहीं मनानी चाहिए।

किसी ने बड़े कमाल की बात कही है:-
“खुद को यूँ खोकर, जिंदगी को मायूस ना कर;
मंज़िल तो चारों तरफ है, तू बस रास्तों की तलाश तो कर।”

–Motivational shayari
motivational shayari, motivational shayari in hindi, motivational shayari image, motivational shayari with story,
motivational shayari image

The Gold Coins – prernadayak kahani in hindi:-

prernadayak story, prernadayak story in hindi, prernadayak kahani, hindi kahani, motivationa story with moral, moral motivational story, hindi motivational kahani
motivational story in hindi

ये मोटिवेशनल कहानी एक किसान की है। जो की काफी गरीब था। खेती करके ही उसकी रोजी-रोटी चलती थी। किसान अपनी गरीबी से काफी परेशान था क्यूंकि उसके पास ज्यादा पैसे नहीं थे और ना ही उसके खेत इतने बड़े थे की वह उनमे ज्यादा फसल लगा सके और अधिक मुनाफा कमा सके। वो दूसरे किसानो को देख कर हमेसा यही सोचता की काश मेरे पास भी बड़े-बड़े खेत होते। उसके पास जितना भी था वह किसान उससे संतुष्ट नहीं था।

एक दिन वो किसान अपने घर के पास पेड़ लगा रहा था। पेड़ लगाने के लिए वो किसान गड्डा खोदने लगा। गड्ढा खोदते-खोदते उस किसान को एक बहुत पुराना घड़ा मिला। किसान थोड़ा हैरान हुवा और सोचने लगा की इस घड़े को यहाँ किसने छुपाया होगा। उसने उस घड़े को बाहर निकाला और उसे खोलकर देखा तो उसके अंदर ढेर सारे सोने के सिक्के थे। किसान उसे देख कर बहुत खुश हो गया। उसने तुरंत फैसला किया की वो उन सभी सिक्कों को बाजार में बेच देगा और बहुत अमीर बन जायेगा।

वो किसान बिना किसी को बताये उस घड़े को एक कपड़े में लपेटकर बाजार की तरफ दौड़ गया। जाते-जाते वो सोचने लगा की उन सोने के सिक्कों को बेचकर मुझे बहुत सारे रुपए मिल जायेंगे, जिनसे में अपने बच्चों के लिए नए कपड़े खरीदूंगा, नया घर बनाऊंगा, अपने लिए बड़े खेत खरीदूंगा। खेतों में काम करने के लिए नौकर रखूँगा और बहुत सारी फसल उगाऊंगा, और उस फसल को बेचकर में गाँव का सबसे अमीर किसान बन जाऊँगा।

अपनी सोच और धन के लालच में डूबा किसान तेज़ी से दौड़ा जा रहा था की अचानक उसका पैर एक पथ्थर से टकराया और वो जमीन पर गिर गया। उसके हाथों से वो घड़ा छूट कर सीधा नाले में जा गिरा और बह गया। उस किसान को कुछ समझ नहीं आया की उसके साथ ये सब क्या हुवा, उसके हाथ कुछ भी नहीं लगा और जो कुछ भी उसने सोचा था वो सब उस घड़े के साथ ही बह गया।

सीख जो हमे इस prernadayak motivational story से मिलती है –

ये छोटी सी prernadayak kahani in hindi हमें ये बात सिखाती है की हमें अपनी कामयाबी की बातें तब तक नहीं सोचनी चाहिए जब तक हम अपने काम में सफल हो नहीं जाते। कई बार चीज़ें उस तरीके से नहीं होती जैसा हम सोचते हैं। जो लोग काम करने से ज्यादा उसके परिणामों को लेकर सपने बना लेते हैं, उन्हें अक्सर ऐसी Situation का सामना करना पड़ जाता है जिसके बारे में उन्होंने कभी सोचा ही नहीं होता।

जब-तक आप किसी काम में सफल ना हो जाएँ तब-तक उसके Results के बारे में सोचने की आदत को बदल डालिये। क्यूंकि सफलता सोचने से कहीं ज्यादा अच्छी वास्तविकता में लगती है। दूसरी बात जो ये Short Hindi Story सिखाती है की जिंदगी में हर व्यक्ति को सब्र और धैय्र से काम लेना चाहिए। बिना सोचे समझे लाइफ में कोई भी फैसला तुरंत नहीं करना चाहिए।

ये जरुरी नहीं की जो हमने सोचा हो वो बिलकुल वैसा ही हो जाये और कभी भी ख़याली पुलाव नहीं बनाने चाहिए। खुली आँखों से देखे गए सपने कभी पूरे नहीं होते और हमेसा याद रखें की लाइफ में कभी भी ज्यादा लालच न करें। उपरवाले ने हमे जो भी दिया है अगर उससे हमारी लाइफ ख़ुशी-ख़ुशी चल रही है तो वो हमारे बहुत है।

ज्यादा का लालच अक्सर इंसान को उसकी खुशियों और अपनों से दूर कर देता है। लाइफ में कभी भी आपको कुछ नया करना है तो लोगों से उस बारे में बात करें, उस चीज़ के बारे में Information लें और फिर जाके अपनी समझ से काम करें। सोच समझकर लिए गए फैसले अक्सर सही ही होते हैं।

किसी भी काम को करने में और कोई important decision लेने में कभी भी जल्दबाजी ना करें। जल्दबाजी में किये गए काम अक्सर गलत ही होते हैं। किसी भी काम को करने से पहले ठन्डे दिमाग से सोचें, एक सही प्लान बनाये और फिर उस काम की शुरुवात करें।

आई होप की ये hindi motivational story आपको अच्छी लगी हो। इस प्रेरणादायक हिंदी कहानी को अपने दोस्तों के साथ Share जरूर करें और ऐसी ही मज़ेदार मोटिवेशनल स्टोरीज पढ़ने के लिए इस Page को Follow/Subscribe जरूर करें.

Leave a Comment