JK Rowling Success Story – संघर्ष से सफलता की कहानी

JK Rowling Success Story कहते हैं की बुरे वक़्त एक खासियत ये होती है की वो हमे अच्छे वक़्त की एहमियत सीखा देता है। Harry Potter author JK Rowling किसी परिचय की मोहताज नहीं है। आज हर बच्चा और युवा उनके बारे में और उनकी सफलता के बारे में जानता है।

लेकिन jk rowling की जिंदगी शुरुवात में इतनी अच्छी नहीं थी जितनी हम आज देखते हैं। आज मैं jk rowling ki struggle story या फिर यूँ कहें j.k rowling success story के बारे में बताऊंगा। जिसके जरिये आप जानेंगे की जिंदगी में सफल बनने के लिए J.K Rowling को कितनी कठिनायों का सामना करना पड़ा।

jk rowling ki kahani आप और हम सभी के लिए प्रेरणा का स्रोत है क्यूंकि ये एक ऐसी शख्स हैं जिन्होंने अपनी शुरुवाती life में ही बहुत कुछ खो दिया था। संघर्ष से सफलता की कहानी आपको अपनी परेशानियों से लड़ना सिखाएगी और साथ ही ये रियल लाइफ स्टोरी इन हिंदी आपको ये भी सिखाएगी की मेहनत और लगन इंसान को कामयाब जरूर बनाती है।  

J.K Rowling Struggle To Success Story In Hindi:

jk rowling struggle story, jk rowling success story, jk rowling biography, jk rowling ki kahani
jk rowling success story

ये कहानी है J.K. Rowling की। J.K Rowling एक British author, Film producer और Screenwriter हैं। Rowling अपनी Harry Potter Novel Series के लिए बहुत famous हैं। 

Jk rowling  को बचपन से ही fanstasy stories पढ़ने और लिखने का बहुत शौक था। 1990 में Rowling को Harry Potter लिखने का idea उस वक़्त आया जब वो train से Manchester to London जा रही थी। उसके बाद उन्होंने Harry Potter novel लिखना शुरू किया।

उस वक़्त jk rowling 25 साल की थी और ये बात उन्होंने अपनी माँ को भी नहीं बताई। लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था…हैरी पॉटर लिखने के 6 महीने बाद ही उनकी माँ की death हो गयी।

उस वक़्त तक उन्होंने हैरी पॉटर के सिर्फ 3 chapter ही लिखे थे। अपनी माँ की death के बाद, Rowling एक नयी शुरुवात के लिए पुर्तगाल चली गयी। वहां जाकर वो English as a foreign language पढ़ाने लगी।  

कुछ समय बाद JK Rowling ने एक portugali journalist से शादी कर ली और उनकी एक बच्ची हुई..इन सब के बाद भी उनकी लाइफ में खुशियां नहीं आयी और कुछ ही समय बाद उनका रिश्ता टूट गया और divorce हो गया और कुछ ही समय बाद उनकी job भी चली गयी।  जिसकी वजह से rowling depression में रहने लगी। 

अपनी लाइफ को बेहतर बनाने के लिए वो वापिस अपने देश आ गयी और उन्होंने अपनी novel को पूरा करने का फैसला किया। उस वक़्त jk rowling government द्वारा मिलने वाली unemployment money से अपना और अपनी बेटी का खर्च चलाती और जब भी उन्हें टाइम मिलता वो cafe में बैठकर अपनी novel लिखा करती थी। 

1995 में jk rowling ने अपनी पहली book को पूरा कर लिया और अब वक़्त था उस book को publish करने का लेकिन यहाँ भी उनके साथ कुछ ठीक नहीं हुवा..starting में ही 12 publishing house ने उनकी बुक को reject कर दिया लेकिन एक उम्मीद के साथ rowling अपनी novel publishers को भेजती रही।

1997 में Bloomsbury के chairman की 8 साल की बेटी ने harry potter novel पे interest दिखाया, जिसकी वजह से Bloomsbury के chairman ने उस book को छापने का फैसला किया और Rowling को कुछ पैसे भी दिए। 

Also Read- कुछ Chance Life में बार बार नहीं मिलतेMotivational Story on HappinessWhat Should I Be – Motivational Kahani

Rowling की पहली novel “harry potter & the philosopher’s stone” ने बच्चों और बड़ों सभी तरह की audience को बहुत आकर्षित किया। जिसके बाद “Scottish Art Council” ने उन पूरी series लिखने के लिए graant दी और इसके बाद उनकी 6 novel और आयी और सभी ने record तोड़ सफलता हासिल की। जिनकी वजह से Rowling world’s best writers में शुमार हुई और उनकी गिनती world के most rich एंड influential people में होने लगी। 

और आज के समय में हैरी पॉटर globally के बहुत बड़ा brand है। जिसकी नेट वैल्यू लगभग 15$ billion की है। Jk rowling अब एक rich और famous author बन चुकी हैं। अपनी कमाई का एक बहुत बड़ा हिस्सा वो सामाजिक काम और लोगों की मदद के लिए दान करती हैं। उनका कहना है की अगर आपके पास जरुरत से ज्यादा पैसा हो तो उसे लोगों की भलाई के लिए इस्तेमाल करना चाहिए।

Seekh jo hume jk rowling ki story se milti hai:

jk rowling की real life motivational story हमे ये बात सिखाती है की हमे अपने passion और सपनों को कभी भी अधूरा नहीं छोड़ना चाहिए और हमेसा उन्हें पूरा करने की कोशिश करनी चाहिए। सभी की life में बुरा वक़्त एक ना एक बार जरूर आता है और जो लोग उस बुरे वक़्त पर भी खुद पर विश्वास रखते हैं वही लोग अक्सर successful भी होते हैं। 

दोस्तों आपको जे के रोलिंग की प्रेरणादायक कहानी कैसी लगी Comment Section में जरूर बताएं ऐसे ही संघर्ष से लेकर सफलता तक की कहानियों से प्रेरणा लेने के लिए हमसे जुड़े रहें।

1 thought on “JK Rowling Success Story – संघर्ष से सफलता की कहानी”

Leave a Comment