मुकेश अम्बानी की सच्ची जीवन कहानी | Mukesh Ambani Life Story in Hindi

आज के समय में मुकेश अम्बानी को कौन नहीं जानता, दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक Mukesh Ambani Life Story भी हमारे लिए एक प्रेरणा का स्रोत है। जीवन में सब कुछ मिल जाना ही एक मात्रा सफलता की निशानी नहीं है, बल्कि उस चीज़ को हम किस हद तक आगे ले जा सकते हैं वह भी बहुत जरुरी है। और ऐसी की एक सफलता की कहानी है मुकेश अम्बानी की।

Mukesh Ambani ने अपनी शुरुवात के बाद से अभी तक सिर्फ खुद को आगे ही बढ़ाया है। Mukesh Ambani Biography के जरिये आप जानेंगे की किस तरह उन्होंने अपने business एक नयी ऊंचाइयों तक पहुँचाया और जिंदगी में एक नया मुकाम पाया। आईये जानते हैं क्या है मुकेश अम्बानी की सफलता की असली कहानी हिंदी में –

Mukesh Ambani Real Life Story

Mukesh Ambani Life Story in Hindi

आज अगर भारत के धनकुबेरों की बात करें तो मुकेश अम्बानी का नाम सबसे पहले हमारी जुबां पर आता है। और ये कहना गलत नहीं होगा कि उनकी इस सफलता के पीछे उन्होंने कई असफलताओं का सामना किया हैं। लेकिन उन्होंने कभी भी हार नहीं मानी। और आज इसी मेहनत ने उनका नाम देश और विदेशों में प्रचलित कर दिया है। इंडिया के हर एक युवा के लिए मुकेश अंबानी एक प्रेरणा स्त्रोत है और आज का युवा उनकी तरह एक सफल Businessman बनना चाहता है।

भारत के सबसे अमीर शख्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अम्बानी और धीरुभाई अम्बानी के बेटे मुकेश अम्बानी का जन्म 19 अप्रैल 1957 को यमन के अदन में हुआ था। मुकेश अम्बानी के तीन बच्चे हैं: आकाश, ईशा और अनंत। मुकेश अम्बानी की वाइफ Nita Ambani IPL Cricket Team MI की मालकिन हैं और साथ ही वो Dhirubhai Ambani International school की फाउंडर और चेयरमैन हैं। मुकेश अम्बानी गुजराती परिवार से हैं और इनकी माता का नाम कोकिला बेन अम्बानी है।

Reliance Petroleum ने बदली किस्मत-

अगर मुकेश अम्बानी की पढ़ाई की बात करें तो उन्होंने Institute Of Chemical Technology से Chemical Engineering में BE की Degree प्राप्त करी। उसके बाद मुकेश अम्बानी ने America के Stanford University में MBA की पढ़ाई करने के लिए admission ले लिया। लेकिन बिज़नेस के कारण उनके पिता धीरूभाई अम्बानी ने उनको MBA के दौरान की वापिस इंडिया बुला लिया और उनको Business संभालने के लिए India ही रोक दिया।

उनके पिता धीरूभाई अम्बानी के कहना था की किसी भी इंसान में business करने का तजुर्बा उसको वास्तविक जीवन में करने से आता है, ना की किसी क्लास में बैठकर पढ़ाई करने से। इसके बाद साल 1981 में मुकेश अम्बानी ने अपने पिता के साथ मिलकर Reliance Petroleum Rasayan की स्थापना की। Petrochemical के साथ ही मुकेश अम्बानी ने अपने पिता के साथ मिलकर अपने वस्त्र उद्योग और polyester fiber के काम को भी संभाला।

अपने production को बढ़ाने ने मुकेश अम्बानी ने अलग अलग technology की 60 से ज्यादा manufacturing facilities का उसे किया। जिसके चलते reliance का production मात्र एक साल में 10 लाख टन प्रति वर्ष से 1 करोड़ 20 लाख टन प्रति वर्ष पहुँच गया। इसके कुछ साल बाद मुकेश अम्बानी ने tele communication में अपना business करने की शुरुवात करी और Reliance Infocom Limited की स्थापना करी, जिसे बाद में Reliance Communication Limited के नाम से जाना जाने लगा।

साल 2002 में उनके पिता धीरूभाई अम्बानी का निधन हो गया। जिसकी वजह से मुकेश और अनिल अम्बानी के बीच कारोबार को लेकर बंटवारे की स्तिथि बन गयी और साल 2005 में इन दोनों ने अपने कारोबार को दो हिस्सों में बाँट दिया। बंटवारे में reliance industries मुकेश अम्बानी को मिली और रिलायंस कम्युनिकेशन लिमिटेड Anil Ambani के हिस्से में आ गयी। Mukesh Ambani Reliance Industries के सबसे बड़े share holders हैं।

2006 में मुकेश अम्बानी ने reliance retail company की स्थापना करी। Reliance Retail का कारोबार बहुत ही तेज़ी से बड़ा और आज ये India की सबसे जायदा कमाई करने वाली और सबसे ज्यादा stores वाली company बन चुकी है। इस वक्त की दुनिया की सबसे बड़ी retails companies की list में 53वें number पर है। इसके साथ ही साल 2015 में Mukesh Ambani ने फिर से एक बार tele communication field में उतरने की योजना बनाई और 2016 में Reliance JIO launch करी।

JIO के launch होते ही इसने tele communication field में तहलका का मचा दिया और free internet डाटा देकर दूसरी सभी कंपनियों के customer को अपनी तरफ खींच लिया। Reliance JIO आज भारत की एक सबसे बड़ी tele communication company बन चुकी है और साथ ही JIO के 42.62 crore subscribers के साथ दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी Mobile Network Operator भी बन चुकी है।


धरती में सबसे महंगा घर ‘Antilia’ की कुछ ख़ास बातें-

फोर्ब्स की एक पत्रिका के अनुसार रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अम्बानी का मुंबई स्थित घर ‘Antilia’ धरती पर सबसे महंगा घर है। 27 मंजिला इस घर की कीमत लगभग एक से दो बिलियन डॉलर बताई जाती है। 400,000 वर्ग फुट में फैले हुए इस घर में दुनियाभर की तमाम सुविधाएँ शामिल है। जिसमें 168 कारों की पार्किंग की सुविधा, कई स्विमिंग पूल, एक योग स्टूडियो, लॉबी में 9 लिफ्ट, तीन हैलीपैड, स्पा और 50 सीटों वाला थिएटर भी है। और वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश अम्बानी ने घर के रखरखाव के लिए लगभग 600 कर्मचारी रखे हुए हैं।

मुकेश अम्बानी के नाम है ये रिकॉर्ड (Mukesh Ambani Record)-

रिलायंस जियो के मार्केट में आते ही टेलीकॉम की दुनिया में मानों तूफान सा आ गया हो और वहीं जियो के इस तूफ़ान ने एक रिकॉर्ड भी बनाया। जियो ने मात्र 170 दिनों में लगभग 10 करोड़ ग्राहक अपने खाते में जोड़े और ऐसा करने वाली जियो भारत में पहली टेलीकॉम कंपनी थी। आपको बता दें कि रिलायंस सिर्फ भारत में ही नहीं विदेशों में भी नाम कमा रही है।

Reliance अपना सामान लगभग 108 देशों में निर्यात करती हैं। ब्लूम्बर्ग बिलिनियर इंडेक्स के अनुसार दुनिया के अमीरों की लिस्ट में मुकेश अंबानी का स्थान 5.63 लाख करोड़ के साथ 11वें पायदान पर है। और वहीं भारत में अमीरों की सूची में उनका स्थान आज नंबर 2 पर है।

आई होप आपको मुकेश अम्बानी की लाइफ स्टोरी की हमारी ये पोस्ट पसंद आयी हो ऐसी ही और भी सफलता की सच्ची कहानियां पढ़ने के लिए इस ब्लॉग को फॉलो जरूर करें। इस कहानी को शेयर जरूर करें।

[Note- The information is based on internet research & it may be vary. This is only for motivation & Self help. Do your own research if you have any doubt.]

Leave a Comment