जिंदगी में काम आने वाली 7 प्रेरणादायक बातें – motivation in hindi

Prernadayak baten- किसी की भी कही बात का असर हमारी लाइफ में बहुत गहरा होता चाहे वो बात अच्छी हो या फिर बुरी। उसी तरह खुद को मोटीवेट रखने के लिए प्रेरणादायक बातों का पता होना बहुत जरूरी हैं या फिर कुछ ना कुछ समय बाद मोटिवेशनल बातें या फिर motivational speech पड़ते रहना बहुत जरूरी हैं।

आज की इस पोस्ट के जरिये हम आपके लिए कुछ ऐसी ही Prernadayak baten या short prernadayak speech in hindi लेकर आये हैं। ये छोटी छोटी motivational speech in hindi आपको बहुत सारी काम की बाते सिखाएंगी और साथ आपको मोटिवेशन इन हिंदी भी देंगी। इन प्रेरणादायक शार्ट मोटिवेशनल स्पीचस को एक बार जरूर पड़ें।

जिंदगी में काम आने वाली 7 प्रेरणादायक बातें / 7 शार्ट मोटिवेशनल स्पीच इन हिंदी 

prernadayak baten in hindi, जिंदगी से जुड़ी कुछ मोटिवेशनल बातें,मोटिवेशनल बातें,motivational words in hindi,shrot motivational speech in hindi,prernadayak hindi speech
Prernadayak baten in hindi

दूसरे या फिर हमारा अपना मन, हमारे बारे में भले ही कुछ कहे, पर हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि हम खास है, जरूरी हैं और हम भी प्यार पाने के हकदार है।

–motivational quote

1- दूसरों को समझना सीखिए।

दूसरों के बारे में हम बहुत कम ही जान पाते है। सामने वाले में जो कुछ हमें दिख रहा होता है, उसके पीछे भी बहुत कुछ होता है, जिसे देखने-समझने की जरूरत होती है। अमेरिकी लेखक खलील जिब्रान कहते हैं, ‘दूसरों का सच उस चीज़ में नहीं होता, जो वह हमें दिखा रहे होते है, बल्कि उसमें होता हैं, जो वह हमें दिखा नहीं सकते। किसी को समझना है तो केवल ये ना सुने कि वह क्या कहता है, बल्कि वो भी सुने जो वह नहीं कह पाते हैं।’

2- गलत काम ना करें।

बहुत सारे लोगों अगर किसी काम को कर रहे हैं तो इस बात की कोई गारंटी नहीं हैं कि वह काम सही है। भीड़ हमेशा सही काम नहीं करती। यूँ तो सही रास्ते पर चलना कठिन होता है और ज्यादातर लोग हमेशा आसान रास्तों को ही चुनते हैं। ऑगस्टीन ने कहा है कि “सही काम, सही कहलाएगा, भले ही उसे कोई न करे। गलत काम हमेशा गलत ही होगा, भले ही उसे हर कोई कर रहा हो।”

3- डर की वजह से कोई काम ना करें।

बहुत से काम हम अपने डर के कारण करते हैं। और उसी डर के कारण हम बहुत से काम करने से रह भी जाते हैं। हमारा डर जिदगी के कई अद्भुत पलों से हमें दूर कर देता है। डर से काम होते तो हैं, पर उसे करने का आनंद अधूरा ही रहता है। ओशो कहते हैं, “उस तरह मत चलिए, जिस तरह डर आपको चलाए। उस तरह चलिए, जिस तरह प्रेम आपको चलाए। जिस तरह खुशी आपको चलाए।”

4- अब तक जो हुवा अच्छा हुवा – motivation in hindi

भगवत गीता में श्री कृष्णा ने कहा है…आपके साथ अब तक जो हुआ, अच्छे के लिए हुआ; आगे जो कुछ होगा वो भी अच्छे के लिए ही होगा, और जो हो रहा है, वो भी अच्छे के लिए हो रहा हैं, इसलिए अपने जीवन को हमेशा वर्तमान में जीओ और भविष्य की चिंता मत करो। जो कुछ भी होना है उसे आप control नहीं कर सकते। अपना Focus सिर्फ उन चीज़ों पर बनाये रखिये जिन्हें आप सच में बदल सकते है। 

5- अपने अंदर के डर को दूर करें – short motivational speech

जब तक हम अंदर से डरे होते है और अपनी qualities को नहीं पहचान पाते तब तक हम दूसरों के सामने झुकते भी हैं और उन्हें झुकाने की कोशिश भी करते हैं। इस डर की वजह से हमारा Self Confidence थोड़ी बहुत चुनौतियों में ही डगमगाने लगता है। अपने सामने आयी किसी भी कठिनाई को लेकर हम जल्दी बेचैन हो जाते हैं और कई तरह के झूठ का सहारा लेते हैं और फिर सही-गलत तरीकों से दूसरों का साथ पाने के लिए तरसते रहते हैं।

ऐसी situation से बचने के लिए आपको अपने डर को बाहर निकालना होगा और इस बात को accept करना होगा की आप जैसे हैं बहुत ख़ास हैं और आपके अंदर भी वो हर काम करने की काबिलियत है जो दूसरे कर सकते हैं। खलील जिब्रान कहते हैं, ‘कल हम राजाओं का सम्मान करते थे। महाराजाओं के सामने हमारी गर्दन झुकी रहती थी। आज हम केवल सच के आगे झुकते हैं, सुंदरता का पीछा करते हैं और प्यार का सम्मान करते हैं।’

6- गुस्से से खुद को बचाएं – motivation for anger

कहते हैं की बेवजह का गुस्सा हमे सबका दुश्मन बना देता है और ये बात सही भी है। जब हम गुस्से में होते हैं तो situation और बातों को ढंग से समझ नहीं पाते। हम अपने किए को बढ़ा चढ़ाकर देखते हैं, पर दूसरों का किया हमें नहीं दिखता। हमें अपनी अच्छाई तो दिखाई देती है, पर दूसरों की केवल बुराई ही देख पाते हैं। हमारे अंदर का डर और गुस्सा, जब मिल जाते हैं,

तो दूसरों की छोटी-सी कमी को भी नजरअंदाज करना हमारे लिए मुश्किल हो जाता है। गुस्सा हमारी सोच और समझ पर ऐसा पर्दा डाल देता है कि हम आगे-पीछे का कुछ सोच नहीं पाते इसलिए जरूरी है की गुस्से को control में रखा जाए और situation को समझा जाए। जिस तरह उबलते पानी में अपना चेहरा नहीं दिखाई देता, इसी तरह गुस्से में हम दूसरों की अच्छी और सच्चाई को देख नहीं पाते।’

7- बदलती चीज़ों को accept करना सीखें – short motivational message 

परिवर्तन जीवन का नियम है। हम सब जानते हैं कि जीवन में उतार-चढ़ाव आने तो तय हैं। लेकिन ये जानने के बावजूद भी जीवन में आने वाले ये बदलाव हमे इतने चुनौतीपूर्ण क्यों लगते हैं ? इसका एक कारण यह हो सकता है कि हमारा दिमाग हमें इन बदलावों के लिए तैयार होने नहीं देता, क्योंकि हम सब जीवन को लेकर अपने दिमाग में एक अलग ही तस्वीर खींचकर रखते हैं और चाहते हैं कि ठीक वैसा ही हो जैसा हमने सोचा है।

लेकिन जीवन में होने वाले बदलाव जब उस हमारी उस सोच के दायरे से बाहर निकलने लगते हैं, तो हम परेशान हो जाते हैं। इसलिए इस बात को समझना बहुत जरूरी है कि आज जो बदलाव जीवन में उथल-पुथल मचा रहे हैं, हो सकता है भविष्य में वह एक नई सुबह की तरफ इशारा कर रहे हों। इसलिए आपकी ज़िन्दगी में अच्छे या बुरे जो भी बदलाव आते हैं उनके साथ खुद को ढालना सीखे।

आई होप इन 7 प्रेरणादायक बातों से आपको कुछ अच्छी और मोटिवेशनल सीख मिली हो। ऐसी और भी life changing short motivational speeches या प्रेरणादायक भाषण पड़ने के लिए हमसे जुड़ें रहें। इस Prernadayak baten पोस्ट को share जरूर करें।

Leave a Comment