Two Best IAS Success Motivational Stories

Two Best IAS Success Stories- आज की safalta ki kahani एक real life person की story है। जिन्होंने बचपन से ही लोगों के ताने सुने और अपने बचपन को उन्हीं तानों में जिया और उन्हीं बचपन के तानों ने उनकी सफलता की कहानी लिख डाली। 

1- Govind Jaiswal – IAS Success Story in hindi:

बचपन की कुछ ऐसी बातें होती हैं जो दिल पर लग जाती हैं लेकिन उन बातों का दर्द जिंदगी भर रहता है। ये कहानी भी कुछ ऐसी ही है। हुवा यूँ की एक बार एक बच्चा खेलने के दौरान अपने दोस्त के घर चला गया। जब दोस्त के पिता को पता चला कि इसके पापा रिक्शा चलाते है तो उन्होंने उस बच्चे से कहा, “तुम्हारे जैसे छोटे परिवार के लड़के की हिम्मत कैसे हुई कि वो हमारे घर आ सके” और उसे बेइज्जत करके अपने घर से भगा दिया। 

ias success story in hindi,ias officer ki kahani,upsc motivational story,success motivational story in hindi,ias officer ki safalta ki kahani
success story of ias officer

उस वक़्त उस बच्चे की उम्र महज 11-12 साल की थी तो उसे ये बात ज्यादा समझ नहीं आयी। उम्र बढ़ने के साथ वो लड़का ये सब बातें समझने लगा की लोग उनकी गरीबी और उसके पिता का मजाक उड़ाते हैं। इतना ही नहीं उस लड़के से लोग कहते थे की,  “तुम जिंदगी में कितने बड़े बन जाओगे, दो रिक्शे ज्यादा खरीद लोगो। खुद भी चलाओगे और दूसरों से भी चलवाओगे”. बचपन के यही ताने उस लड़के को याद रहे और उसने ये ठान लिया की बड़ा होकर कुछ बड़ा ही करना है।  

उस बच्चे का नाम है Govind Jaiswal और आज वो एक IAS Officer हैं। Govind Jaiswal उत्तर प्रदेश के वाराणसी के रहने वाले हैं। कहा जाता है की Govind अपने घर में कानों में रुई लगाकर पड़ते थे ताकि किसी भी तरह की कोई sound उन्हें disturb न कर सके। 22 साल की उम्र में Govind Jaiswal ने UPSC की परीक्षा पास कर ली थी जिसमे उन्हें 48वीं रैंक हांसिल हुई।  

Lesson we learn from this motivational story in hindi for success:

दोस्तों लाइफ में कभी भी खुद को और दूसरों को बेकार या छोटा मत समझना क्यों की कल कौन क्या बनने वाला है इसका अंदाजा कोई नहीं लगा सकता। Govind Jaiswal ने अगर लोगों के तानों के हिसाब से जिंदगी को जिया होता तो शायद वो life में कुछ बन नहीं पाते लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत, लगन और पढ़ाई के दम पर वो मुकाम हासिल कर लिए जिसके बारे में उनके मोहल्ले वाले कभी सपने में भी नहीं सोच सकते थे। 

हमे कभी भी लोगों के तानों को सुनकर अपने आप को कमजोर नहीं बनाना चाहिए बल्कि लोगों के तानों को अपनी motivation बना कर अपने मन में रखकर एक ऐसा लक्ष्य बनाने चाहिए जिसे पूरा करने के बाद उन लोगों के मुँह खुले के खुले रह जाएँ, जो हमेशा आपको ताने देते हैं। 

सीख जो हमें इस प्रेरणादायक कहानी से मिलती है:-

ये सफलता की कहानी हमे ये बात भी सीखाती है की सफल होने के लिए हमारा अमीर या गरीब होना जरूरी नहीं है बस जरूरी है तो हमारे इरादों का पक्का होना। जो लोग अपनी गरीबी की वजह से जिंदगी में कुछ नहीं कर पाते और खुद को असफल मानते हैं दरअसल वो अपनी गरीबी की वजह से नहीं बल्कि अपने कमजोर इरादों और कमजोर लक्ष्यों की वजह से जिंदगी में असफल रह जाते हैं, इसलिए सही लक्ष्य और मजबूत इरादें रखें। सफलता आपको जरूर मिलेगी। 

2- दिल को छूने वाली IAS Officer की कहानी – Heart Touching IAS Motivation Story

ias success story,upsc motivational story,ek ias officer ki kahani,ias success story in hindi,ias upsc motivation in hindi
IAS officer ki kahani

किसी ने क्या खूब लिखा है, “अगर कोई आपकी कीमत ना समझे तो कभी निराश मत होना अक्सर कभाड़ के व्यापारी को हीरे की परख नहीं होती।”

–Motivational Shayari
ias motivational shayari,motivational shayari image,motivational shayari with motivational story in hindi
Motivation Shayari Image

एक बूढ़ा पिता अपने IAS बेटे के केबिन में गया और उसके कंधे पर हाथ रख कर खड़ा हो गया। और प्यार से अपने बेटे से पूछा…हमारे गाँव का सबसे सफल व्यक्ति कौन है? बेटे ने पिता को बड़े प्यार से हंसते हुए कहा, “मेरे अलावा कौन हो सकता है पिताजी।”

पिता को इस जवाब की उम्मीद नहीं थी, उन्हें विश्वास था कि उनका बेटा गर्व से कहेगा, “पिताजी आप ही सबसे सफल व्यक्ति हैं, जिन्होंने मुझे इतना योग्य बनाया।” उनकी आँखे में आंसू आ गए। और वो उस केबिन से बाहर निकलने लगे। उन्होंने एक बार पीछे मुड़ कर फिर अपने बेटे से पूछा एक बार फिर बताओ हमारे गाँव का सबसे सफल व्यक्ति कौन है ?

इस बार बेटे ने कहा, “पिताजी सबसे सफल व्यक्ति तो आप ही हैं।”
ये बात सुनकर पिता हैरान हो गए उन्होंने कहा, “अभी तो तुम अपने आप को सबसे सफल व्यक्ति बता रहे थे, अब तुम मुझे बता रहे हो?”

बेटे ने हंसते हुए उन्हें अपने सामने बैठाया और कहा, “पिताजी उस समय आप का हाथ मेरे कंधे पर था, जिस बेटे के कंधे पर या सिर पर पिता का हाथ हो वो बेटा तो पूरी दुनिया का सबसे सफल व्यक्ति होता है।” ये सुनकर पिता की आँखे भर आई और उन्होंने अपने बेटे को कस के गले लगा लिया।

सीख जो हमे सी प्रेरणादायक कहानी इन हिंदी से मिलती है:-

ये छोटी सी IAS motivational kahani हमे ये बात सिखाती है की जिन बच्चों के साथ माँ बाप का आशीर्वाद और साथ होता है वो life में कुछ ना कुछ कर ही जाते हैं। life में हम जब भी कुछ नया करते हैं तो कोई भी हम पर विश्वास नहीं करता, दूसरों को हमेसा यही लगता है की हम कभी सफल नहीं हो पाएंगे।

लेकिन एक हमारे parents ही होते हैं जिन्हें हम पर विश्वास होता है, इसलिए अपनी सफलता का हिस्सा अपने parents को जरूर बनाएं। हम जिंदगी में कितने ही बड़े क्यों ना बन जाएँ, हमे ये बात कभी नहीं भूलनी चाहिए की हमारी ये जिंदगी हमारे parents की वजह से ही है। इसलिए अपने parents की respect करें और वो हर खुशियां दे जो उन्होने हमेसा आपको दी।

हमारी सफलता की पहली सीढ़ी हमारे parents ही होते हैं। उन्ही की बदौलत हम जिंदगी में वो सब कर पाते हैं जिस लायक हमे बनना होता है। Parents के support के बिना हम कभी सफल नहीं हो सकते क्यों हमारे parents ही होते हैं, जो हमे बचपन इस काबिल बनाने में लगे रहते हैं की हम आगे चलकर जीवन में वो मुकाम पा सकें जहाँ हमारे पेरेंट्स नहीं पहुँच पाए।

माँ बाप का सपना अक्सर अपनी औलाद को सफल और उनसे बेहतर बनाने का होता है। हमारे माँ बाप हमे वो हर ख़ुशी, वो हर सुविधा देते हैं जो उन्हें कभी life में नहीं मिलती। हमेशा अपने parents के साथ रहें और उन्हें उस वक्त अकेला ना छोड़ें, जब आप सफलता के शिखर पर हों।

आई होप इन दो ias success stories in hindi से आपको बेहतर सीख मिले। ऐसे ही और भी success motivational stories के लिए हमारे साथ जुड़ें रहें। 

Leave a Comment