The Comfort Zone – short motivation story hindi

comfort zone motivation story- हम सभी को अपने काम, अपनी सोच और strength के हिसाब से करने की आदत होती है, और अपनी इस आदत की वजह से हम अपनी एक limit सेट कर लेते हैं और अपनी हर चीज़ उसी limit में रह कर लेते हैं।

ये बात सही तो है लेकिन जीवन में कामयाब बनने के लिए हमे कभी ना कभी अपनी limit और सोच से बढ़कर कुछ करना ही पड़ता है और जब बात अपनी limit push करने की आती है तो हम अपनी आदत की वजह वो चीज़ कर ही नहीं पाते हैं। यही चीज़ होती है हमारा comfort zone.

जो की हमे अपनी limit से बढ़कर कुछ करने से रोकती है। तो दोस्तों आज की motivational story on comfort zone आपको ये बात सिखाएगी की किस तरह अपने comfort zone की वजह से हम अपनी life में आगे नहीं बड़ पाते हैं।

ये short motivational story in hindi for success आपको कामयाब बनने की सोच देगी। आज की शार्ट हिंदी स्टोरी:

The Baby Elephant – short motivational story with moral

एक बार एक सर्कस का trainer एक बड़े से हाथी को पतली सी रस्सी के सहारे एक पोल से बांध रहा था। उस trainer ने इसी तरह अपने सभी हाथियों को बांधा हुवा था।

कम्फर्ट जोन इन हिंदी, कम्फर्ट जोन मोटिवेशन,कम्फर्ट जोन से कैसे बाहर निकलें,comfort zone story,small motivational story in hindi,best motivational short story
comfort zone motivational story

कुछ देर बाद वहां से एक व्यक्ति गुजरा और उसने ये सब देखा और वो उस trainer से बोला, “तुम इन हाथियों को इस कमजोर से पोल के सहारे बांध रहे हो। ये हाथी तो इसे एक झटके में उखाड़ देंगे और भाग जायेंगे।”

उस व्यक्ति की बात सुन वह trainer बोला, “जब ये हाथी छोटे थे तब भी हम इन्हें ऐसे ही बांधा करते थे, उस वक़्त ये छोटे थे तो बहुत कोशिश करने के बाद भी ये खुद को इस लकड़ी के पोल से छुड़ा नहीं पाते थे।

और फिर धीरे धीरे इन्होने ये मान लिया की ये रस्सी इनसे ज्यादा मज़बूत है, और इन्होने आज़ाद होने की कोशिश करना ही छोड़ दिया। और अब ये छोटी सी रस्सी ही इनका comfort zone है जिससे ये खुद को बाहर निकालने की कोशिश ही नहीं करते।”

Lesson we learn from this comfort zone motivation story in hindi:

ये छोटी सी short motivational story, हमे ये बात सिखाती है की अगर लाइफ में कुछ achieve करना है तो सबसे पहले अपने comfort zone से बहार निकलना होगा। हमारा comfort zone, हमारे साथ past में हुवे वो incidents होते हैं जिनकी वजह से हम आज भी किसी नई चीज़ को करने में डरते हैं, हम डरते हैं कहीं हम fail ना हो जाएँ, या कोई हमारा मज़ाक ना उड़ाए या फिर ये चीज़ हमारे बस की नहीं है।

जिस तरह हाथी को अपनी ताकत का पता नहीं होता और वो उस रस्सी से खुद को निकाल नहीं पता लेकिन हमारे अंदर ये power है की हम अपनी कमजोरी और strength को जान सकते हैं और खुद को किसी भी condition से बहार निकाल सकते हैं। हमारा comfort zone हमारी नाकामयाबी का एक बहुत बड़ा कारण है इसलिए अपनी strength को पहचानों और खुद को अपने comfort zone से बाहर निकालो।

अगर हमे जिंदगी में सफल होना है तो हमे अपना comfort zone किसी भी हाल में छोड़ना होगा। अगर हम हमेशा खुद को अपने कम्फर्ट जोन में ही रखेंगे तो हम कभी भी लाइफ में उस मुकाम तक नहीं पहुँच पाएंगे जहाँ हम अक्सर सफल लोगों को देखते हैं और उनकी तरह बनने की इच्छा रखते हैं।

अपने कम्फर्ट जोन से बाहर निकल कर हमे छोटे छोटे रिस्क लेना सीखना होगा। खुद को किसी भी नए काम और नयी परिस्थिति के लिए हमेशा तैयार रखना होगा। किसी भी काम को ये कहकर कभी नहीं टालना की ये मुझसे नहीं होगा या मेरे बस से बाहर है। हमारा इस तरह excuse बनाना हमारी तरक्की में एक बाँधा होता है। जो हमे जीवन में सफल बनने से रोकते रहता है।

Comfort Zone Motivation in Hindi:-

हमारा कम्फर्ट जोन एक तरह से हमारा आलस होता है। जो हमे उन चीज़ों को करने से रोकता है जिनमे मेहनत लगती है। हम अपने कम्फर्ट जोन की वजह से सिर्फ उन्ही कामों को करते हैं जो हमारे लिए easy होते हैं और जिनके लिए हमे ज्यादा हाथ पैर मारने की जरूरत नहीं पड़ती।

कम्फर्ट जोन से बाहर निकलने के लिए हमे हर वक्त कुछ ना कुछ नया करते रहना चाहिए। जिंदगी में मज़ा भी तभी है जब हमारे पास करने को कुछ ऐसा हो जो हमारी पहुँच से तो दूर हो लेकिन उसे करने का हमारा मन हो। कम्फर्ट जोन से बाहर निकल कर कुछ करने के बहुत से फायदे भी हैं।

जैसे – comfort zone से बाहर निकल कर काम करने से productivity बढ़ती है। किसी काम को अलग तरह से करने के नए नए ideas आते हैं। Future में अगर आप कुछ नया try करना चाहते हैं तो उसे करने से आपको डर नहीं लगता है।

किसी नए काम को करने से पहले आपके मन से failure और लोग क्या कहेंगे, इस तरह के डर निकल जाते हैं। आपको life में अगर कभी अचानक कोई problem आ जाती है तो आप उससे निपटने के लिए हमेशा तैयार रह पाते हैं। कम्फर्ट जोन से बाहर निकल कर आप एक boring life को अलविदा कहकर, एक energetic जीवन की शुरुवात कर पाते हैं।

I hope की ये motivational story in hindi short on Comfort Zone आपको पसंद आयी हो, आपको ये छोटी सी प्रेरणादायक स्टोरी कैसी लगी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं।

Leave a Comment