60+ Latest Gulzar Motivational Shayari | Best गुलज़ार मोटिवेशनल शायरी

Latest Gulzar Motivational Shayari | गुलज़ार के बारे में – सम्पूर्ण सिंह कालरा जो की गुलज़ार के नाम के से प्रसिद्ध हैं। गुलज़ार का जन्म 18 August, 1936 को पंजाब के झेलम जिले के दीना नामक गाँव में हुवा था। जो की अब पाकिस्तान का हिस्सा है। गुलज़ार लेखक होने के साथ साथ निर्देशक, गीतकार, निर्माता और कवी भी हैं। गुलज़ार ने हिंदी फिल्मों के लिए कई गाने भी लिखें हैं।

गुलज़ार ने कवी के रूप में अपनी बहुत सी कवितायें और शायरियां लिखी हैं। गुलज़ार की शायरियां बहुत ही शालीन और काफी गहरी होती हैं। Gulzar Ki Shayariyan पढ़ने के बाद आपको ऐसा लगेगा मानो गुलज़ार साहब ने शब्दों के जरिये आपकी दिल की बात कह दी हैं। गुलज़ार ने अपने जीवन में बहुत सी बेहतरीन शायरियां लिखी हैं। गुलज़ार की हर शायरी आम जीवन और आम जिंदगी से जुड़ी होती हैं।

इस best gulzar motivational shayari पोस्ट के जरिये हम आपके साथ गुलज़ार की कुछ बहुत ही अच्छी प्रेरणादायक शायरियां शेयर करेंगे। ये गुलजार की मोटिवेशनल शायरियां बहुत ही सिंपल हैं लेकिन इनके मतलब बहुत ही गहरे हैं। इन्हें आप खुले दिमाग से नहीं समझ पाएंगे, इन्हें समझने के लिए आपको शब्दों की गहराई में जाना होगा।

गुलज़ार बेस्ट शायरी आपको अंदर से एक ऐसा एहसास देंगी जो शायद ही आपको किसी और की शायरियां पढ़ने से मिले। गुलज़ार के शब्दों की जितनी तारीफ़ की जाए उतनी कम है। एक बार गुलज़ार प्रेरणादायक शायरियां जरूर पढ़ें।

Guljar motivational shayari for life | गुलज़ार मोटिवेशनल शायरी

1- बड़े महंगे Kirdaar Hain, जिंदगी के साहब;
Samay-Samay Par Sab के भाव बढ़ जाते हैं।

–Gulzar
gulzar motivational shayari, gulzar shayari motivation, gulzar ki shayari
Gulzar Shayari Image 1

2- ऐसे जियो कि अपने मां-बाप को पसंद आ सको,
दुनिया की पसंद तो पल भर में बदल जाती है।

–Guljar

3- झूठी शान के Parinde Hi फड़फड़ाते हैं,
Varna बाज़ की उड़ान Me Kabhi Awaaj नही होती।

–Gulzar

4- हर किसी के पास अपने-अपने मायने हैं;
खुद को छोड़, सिर्फ दूसरों के लिए ही आईने हैं।

–Gulzar

5- पलट Kar Jawaab Dena बेशक गलत बात है,
लेकिन सुनते Raho To Log Bolne Ki हद भूल जाते हैं।

–Gulzar

6- यहां हर कोई रखता है, खबर गैरों के गुनाहों की;
अजीब फितरत है, कोई आईना नही देखता.

–Guljar
gulzar shayari on life in hindi,गुलज़ार शायरी इन हिंदी,गुलजार की शायरी जिंदगी
Gulzar Shayari Image 2

7- वहम से भी खत्म Ho Jaate Hain Rishte,
कसूर हर बार गलतियों Ka Nahi Hota.

–Gulzar

8- खुद की कीमत रखिए उतनी ही, जितनी अदा कर सकें;
अगर अनमोल हो गए तो तन्हा रह जाओगे।

–Gulzar

9- हजारों उलझनें राहों में और कोशिश बेहिसाब,
Isi Ka Naam Hai Jindagi..चलते रहिए जनाब।

–Gulzar

10- अजीब से लोग बसते हैं शहर में मेरे;
कांच की मरम्मत करते हैं, पत्थर के औजारों से।

–Gulzar

11- पेड़ काटने आए हैं, कुछ लोग मेरे गांव में,
धूप बहुत तेज है, कह कर बैठ गए उसी की छांव में।

–Gulzar

12- जिंदगी में एक बात तो तय है,
की तय कुछ भी नही है।

–Gulzar
gulzar shayari on life in hindi,गुलज़ार शायरी इन हिंदी,गुलजार की शायरी जिंदगी
Gulzar Shayari Image 3

13- रस्सी जैसी जिंदगी, तनी-तनी से हालात;
एक सिरे पर ख्वाहिशें, दूजे पर औकात।

–Gulzar

14- रोए बगैर तो प्याज भी नही कटता¸
यह तो जिंदगी है जनाब, ऐसे कैसे कट जाएगी।

–Gulzar

15- मेरे किरदार को मेरे आज से ना जान,
मैं जब पौंधा था तब भी बरगद था।

–Gulzar

16- आईना जब भी उठाया करो,
पहले देखा करो, फिर दिखाया करो।

–Gulzar
gulzar motivational shayari, gulzar shayari motivation, gulzar ki shayari
Gulzar Shayari Image 4

17- मजबूत होने में मजा ही तब है,
जब सारी दुनिया कमजोर करने पर तुली हो।

–Gulzar

18- Jaroori Nahi Ki जिसमें सांसे ना हों बस वहीं मुर्दा है,
जिस में इंसानियत Nahi Vo Kaun Sa जिंदा है।

–Gulzar

19- हर जगह इत्र ही नही महका करते,
कभी-कभी शख्सियत भी खुशबू दे जाती है।

20- ठुकरा दो अगर दे कोई जिल्लत से समंदर¸
इज्जत से जो मिल जाए वह कतरा ही बहुत है।

–Gulzar

21- घुटन क्या चीज़ है ये पूछिए उस बच्चे से…
जो काम करता है ‘रोटी’ के लिए, खिलौनों की दुकान पर.

–Gulzar
gulzar motivational shayari, gulzar shayari motivation, gulzar ki shayari
Gulzar Shayari Image 5

22- थोड़ा सा रफ्फू करके देखिये ना…फिर से नयी सी लगेगी
ज़िन्दगी ही तो है.

23- उलझने भी मीठी हो सकती हैं,
जलेबी इस बात की ज़िंदा मिसाल है.

–Gulzar

24- मुख़्तसर सा गुरूर भी ज़रूरी होता है जीने के लिए;
ज़्यादा झुक के मिले तो दुनिया पीठ को पायदान बना लेती है.

–Gulzar

25- कुछ अलग करना हो तो भीड़ से हट के चलिए,
भीड़ साहस तो देती हैं मगर पहचान छिन लेती है.

–Gulzar
gulzar motivational shayari, gulzar shayari motivation, gulzar ki shayari
Gulzar Shayari Image 6

26- घर में अपनों से उतना ही रूठो
की आपकी बात और दूसरों की इज्जत,
दोनों बरक़रार रह सके.

–Gulzar

27- हो के मायूस Naa Yun Shaam से ढलते रहिये,
ज़िन्दगी भोर Hain Sooraj Sa निकलते रहिये,
Ek Hi Paanv Par ठहरोगे तो थक जाओगे,
धीरे-धीरे ही सही राह Par Chalte Rahiye.

–Gulzar

–gulzar ki motivational shayari–

28- थोड़ी थोड़ी बातें दोस्तों से भी करते रहिए,
जाले लग जाते हैं, अक्सर बंद मकानों में।

29- अपने ही घर में मेहमान बन कर आना जाना हुआ¸
जब से शहर में शुरू कमाना हुआ।

–Gulzar

30- जिस दर्द से हम गुजरे हैं,
तुम गुजरते तो गुजर ही जाते.

–Gulzar

31- मेरी बहादुरी के किस्से मशहूर थे शहर में,
तुझे खो देने के डर ने मुझे कायर बना दिया.

gulzar sahab motivational shayari, gulzar ki shayari in hindi
Gulzar Shayari Image 7

32- कौन कहता है, हम झूठ नही बोलते;
जनाब दिल का हाल पूछ कर तो देखिए.

33- फितरत तो कुछ यूं है इंसान की;
बारिश खत्म हो जाए तो छतरी बोझ लगती है.

–Gulzar

34- जख्म वही है, जो छुपा लिया जाए;
जो बता दिया जाए , उसे तमाशा कहते हैं.

35-खुली किताब के पन्ने उलटते रहते हैं।
हवा चले न चले दिन पलटते रहते हैं।

–Gulzar

36- तुझसे कोई शिकवा शिकायत नही है;
जिंदगी, जो दिया है तूने वो भी बहुतों को नसीब नहीं होता।

gulzar sahab motivational shayari, gulzar ki shayari in hindi
Gulzar Shayari Image 8

37- बहुत छाले है,उसके पैरों में,
कमबख्त उसूलों पर चला होगा।

38- नाराज हमेशा खुशियां ही होती हैं,
गमों के कभी इतने नखरे नही होते।

–Gulzar

Best Gulzar Quotes text | guljar best shayari

39- इंसान की चाहत है, कि उड़ने को पर मिले;
और परिंदे सोचते है, कि रहने को घर मिले.

40- जिन्हें वाकई बात करना आता है,
वो लोग अक्सर खामोश रहते हैं।

41- किसने चलाया यह तोहफे देने लेने का रिवाज,
गरीब आदमी मिलने जुलने से भी डरने लगा है।

Gulzar Shayari Image 9

42- खुद से भी खुलकर नही मिलते हम,
आप क्या खाक जानते हो हमें।

43- बड़े शहरों की लाइफ को फास्ट कहने वालों को,
मैने उनकी जिंदगी को अक्सर ट्रैफिक में रेंगते हुवे देखा है।

–Gulzar

44-अब किसको दें अच्छा बनने का मशवरा,
जब शराफत में हमें ही कुछ ना मिला।

45- बिना मोबाइल खाली हाथ नजर आ जाए कोई तो,
खामखा ही हाथ मिलाने को जी करता है.

–Gulzar

1 thought on “60+ Latest Gulzar Motivational Shayari | Best गुलज़ार मोटिवेशनल शायरी”

Leave a Comment